26 जनवरी के लिए सुरक्षा अलर्ट, ASEAN देशों के प्रमुखों की मौजूदगी को देखते हुए चौकसी बढ़ी

आतंकी हमले के खतरे को देखते दिल्ली में सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई हैं। पुलिस ने दिल्ली के मुख्य बाजारों व सार्वजनिक स्थलों की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है।

40

नई दिल्ली [जेएनएन]। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली आतंकियों के निशाने पर है। गणतंत्र दिवस के मौके पर मेहमान के तौर पर आने वाले आसियान देशों के प्रतिनिधियों पर आतंकी हमले का खतरा है। आतंकी हमले के खतरे को देखते दिल्ली में सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई हैं। पुलिस ने दिल्ली के मुख्य बाजारों व सार्वजनिक स्थलों की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है। वाहनों की सघन तलाशी ली जा रही है। जगह-जगह बैरीकेडिंग की गई है, खासकर बॉर्डर वाले इलाके में निगरानी पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

आतंकियों के छिपे होने की आशंका
खुफिया एजेंसियों से मिले की इनपुट के मुताबिक, जामा मस्जिद, मजनू का टीला, बटला हाउस, कृष्णा नगर, अर्जुन नगर, दिल्ली और एनसीआर की अवैध कॉलोनियों में आतंकियों के छिपे होने की आशंका है। खुफिया इनपुट से यह जानकारी भी सामने आई है कि आतंकी कुछ नए तरीकों का इस्तेमाल कर दिल्ली को दहला सकते हैं।

26 January
Source by Google

नए तरीके इस्तेमाल कर सकते हैं आतंकी
आतंकी लाउडस्पीकर और एम्पिलीफायर में आईडी (IED) लोड कर किसी समारोह में हमला कर सकते हैं।आतंकी आईडी ब्लास्ट के लिए टॉर्च, परफ्यूम, बॉटल, टॉय और कैमेरे का इस्तेमाल कर सकते हैं। मेटल डिटेक्टर से बचने के लिए आतंकी नॉन मेटल आईडी (non metal IED) का भी इस्तेमाल आत्मघाती हमले के लिए कर सकते हैं।

मोस्ट वॉन्टेड आतंकी गिरफ्तार
गौरतलब है कि गणतंत्र दिवस से दिल्ली में भारत का मोस्ट वॉन्टेड आतंकी गिरफ्तार हुआ है। भारत में ‘लादेन’ नाम से कुख्यात आतंकी और इंडियन मुजाहिद्दीन के संस्थापकों में से एक अब्दुल सुभान कुरैशी को गिरफ्तार किया गया था। कुरैशी पर चार लाख रुपये का इनाम घोषित था और उसकी तलाश पुलिस पिछले कई वर्षों से कर रही थी।

सुरक्षा को लेकर सतर्क
यहां यह भी बता दें कि दिल्‍ली के जामा मस्जिद इलाके में तीन आतंकवादियों के छिपे होन की सूचना मिली है। इसके बाद सुरक्षा एजेंसियां हरकत में आ गईं हैं। गणतंत्र दिवस की तैयारियों के चलते राजधानी हाई अलर्ट पर है।दिल्ली में लगभग आधा दर्जन ऐसे बाजार हैं जहां हजारों की संख्या में लोगों की भीड़ हर समय रहती है। ऐसे में इन बाजारों बाजारों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। निगरानी रखने के लिए मचान भी बनाए गए हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि सुरक्षा को लेकर सतर्क हैं। जांच कार्य में किसी प्रकार की ढिलाई नहीं की जा सकती है। लोगों की सुरक्षा सर्वोच्च प्राथमिकता है।

मेट्रो में ली जा रही है तलाशी
मेट्रो में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। सभी यात्रियों की तलाशी ली जा रही है। साथ ही मेट्रो स्टेशन परिसर में सीआरपीएफ जवानों की अन्य दिनों की अपेक्षा ज्यादा संख्या में तैनाती की गई है। इसके अलावा मेट्रो की पार्किग में भी वाहन की जांच होने के बाद गाड़ी को अंदर जाने दिया जा रहा है।

26 January
Source by Google

जगह-जगह है बैरीकेडिंग
सड़क पर वाहनों की जांच करने के लिए जगह-जगह बैरीकेडिंग की गई है। द्वारका, तिलक नगर, आर्य समाज रोड, टैगोर गार्डन, राजौरी गार्डन सहित कई अन्य जगहों पर पुलिसकर्मी वाहनों की जांच कर रहे हैं। रात के समय हर इलाके में पुलिस गश्त बढ़ा दी गई है। पुलिसकर्मी पीसीआर वैन के अलावा बाइक पर भी गश्त कर रहे हैं।

लोगों को किया जा रहा जागरूक
लाउडस्पीकर के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जा रहा है। लोगों को बताया जा रहा है कि किसी भी लावारिस वस्तु को हाथ न लगाएं। किसी भी व्यक्ति को संदिग्ध गतिविधि करते हुए देखें तो इसकी जानकारी तुरंत पुलिस को दें। पुलिस इन दिनों साइबर कैफे पर भी नजर रख रही है। पुलिस के अनुसार सभी साइबर कैफे संचालकों को इस बात के निर्देश दिए गए हैं कि जो भी यहां आए उससे पहचान पत्र लिया जाए। जो ऐसा नहीं करेंगे उनके खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा।

Source Jagran