डॉक्टरों की लापरवाही: महिला के पेट में छोड़ा तौलिया, पति ने उठाया ये कदम

दो साल पहले एलबीएस अस्पताल में किया गया था ऑपरेशन, सवा साल बाद पता चला, पति ने केस दर्ज कराया

112

नई दिल्ली। अक्सर आपने डॉक्टरों की लापरवाही से ऑपरेशन के दौरान मरीज के शरीर में कपड़े या अन्य सामान छूटने की घटनाएं सुनी होंगी। राजधानी दिल्ली के लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में भी इसी तरह की घटना सामने आई है।

करीब दो साल पूर्व एलबीएस अस्पताल में महिला का प्रसव पीड़ा के बाद ऑपरेशन किया गया था। इस दौरान डॉक्टरों ने महिला के पेट में तौलिया छोड़ दिया, जिससे महिला बीमार रहने लगीं। सवा साल बाद पेट में तौलिये का पता चला।

एलएनजेपी अस्पताल में इसका ऑपरेशन किया गया, लेकिन अब भी महिला की हालत गंभीर बनी हुई है। दर-दर की ठोकरें खाने के बाद पति नरेश कुमार की शिकायत पर पुलिस ने दो साल बाद डॉक्टरों के खिलाफ लापरवाही का मामला दर्ज किया है। कल्याणपुरी पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पुलिस के मुताबिक, पीड़ित नरेश कुमार परिवार के साथ कल्याणपुरी के खिचड़ीपुर इलाके में रहता है। परिवार में पत्नी किरण, एक बेटा व अन्य सदस्य हैं। 24 फरवरी, 2016 को नरेश प्रसव पीड़ा के बाद अपनी पत्नी को एलबीएस अस्पताल ले गया था, जहां डॉक्टरों ने उसकी पत्नी का ऑपरेशन किया। बेटा पैदा हुआ। अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद | किरण की तबीयत खराब रहने लगी। कई बार नरेश पत्नी को एलबीएस ले गया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। निजी अस्पतालों में भी इलाज कराया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। 18 मई, 2017 को नरेश ने पत्नी को एलएनजेपी अस्पताल में दिखाया। टेस्ट करने पर पता चला कि महिला के पेट में तौलिया है। 25 मई को ऑपरेशन कर किरण के पेट से तौलिया निकाला गया। इस दौरान किरण की तबीयत बिगड़ गई। बड़ी मुश्किल से उसकी जान बची, नरेश ने उसके इलाज पर 10 लाख रुपये खर्च कर दिए। डॉक्टरों की लापरवाही की उसने शिकायत की। पुलिस ने बुधवार को कल्याणपुरी थाने में लापरवाही बरतने का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.