आईएसएल-4: मुम्बई और पुणे का सामना

19

आईएसएल-4: अपने घर में मुम्बई का सामना करेगा पुणे

एफसी पुणे सिटी और मुंबई सिटी एफसी इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के चौथे सीजन में पहली बार बुधवार को बालेवाडी स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में आमने-सामने होंगे। इन दोनों का मुकाबला ‘महाराष्ट्र डर्बी’ नाम से मशहूर है। दोनों टीमों को अपने पहले मैच में हार मिली थी। मुंबई को पहले मैच में बेंगलुरू ने 2-0 से मात दी थी जबकि दिल्ली डायनामोज ने पुणे को उसके घर में 3-2 से हराया था।

हालांकि पुणे ने वापसी करते हुए अपने दूसरे मैच में दो बार की विजेता एटीके को उसके घर में 4-1 से मात दी थी। पुणे के कोच रैंको पोपोविक ने कहा कि वह इस बात से निराश हैं कि उनकी टीम अपने घर में खेला गया पहला मैच जीत नहीं सकी, लेकिन मौजूदा विजेता एटीके के खिलाफ मिली जीत से काफी खुश हैं।

सर्बिया के पोपोविक ने कहा, ‘हमारे लिए यह बेहद अहम है कि हमने अपने पहले तीन अंक हासिल कर लिए हैं और घर में खेलते हुए हम एक बार फिर इस तरह की कोशिश करेंगे। लेकिन यह इसलिए और जरूरी है क्योंकि क्लब का घर से बाहर रिकार्ड अच्छा नहीं है।’

50 साल के पोपोविक ने लीग शुरू होने से पहले कहा था कि वह अपने खिलाड़ियों से कहेंगे की वह इस सीजन में रोमांचक फुटबाल खेलें। हालांकि पहले मैच में ऐसा नहीं हुआ, लेकिन एटीके के खिलाफ उसने अपने कोच की बात को सही साबित किया था।

उन्होंने कहा, ‘प्री सीजन में पहले मैच को छोड़कर हमने हर मैच में गोल किए थे। यह सिर्फ ध्यान से खेलने की बात है। हम इसी तरह का प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे। हम ज्यादा गोल करने की कोशिश करेंगे, लेकिन फुटबाल में कुछ कहा नहीं जा सकता।’

वहीं मुंबई सिटी एफसी के कोच ऐलेक्जेंडर गुइमारेस को पुणे सिटी के खिलाफ सावधान रहने की जरूरत है। खासकर इमिलियानो अल्फारो और मार्सेलिन्हो से मुंबई को सतर्क रहना होगा। इन दोनों ने पिछले मैच में एटीके के खिलाफ जो खेल खेला था उसे देखने के बाद बाकी टीमों को इनसे बचना होगा। दोनों ने उस मैच में दो-दो गोल किए थे।

सीजन चार के लिए रिटेन किए गए एक मात्र कोच कोस्ट रिका निवासी गुइमारेस पुणे की आक्रमण पंक्ति से अच्छी तरह से वाकिफ हैं और उन्होंने अपने खिलाड़ियों को इसके लिए सतर्क भी कर लिया है। उन्होंने कहा, ‘उन्होंने जो गोल किए थे वो काफी आक्रामक तरीके से किए थे। जब एक टीम यह कर सकती है तो आपको इस बात को आश्वस्त करना होगा की आप गलती नहीं करें क्योंकि ऐसा होता है तो इसकी सजा मिलेगी।’ लेकिन गुइमारेस कहते हैं कि उनकी टीम इस मैच में ‘अलग आत्मविश्वास’ के साथ उतरेगी।

Source Navbharattimes.indiatimes

Leave A Reply

Your email address will not be published.