आइये जानते हैं कि गुस्से पर काबू कैसे पायें – How To Control Anger

224

अक्सर यह देखा जाता है कि स्वभाव से भले कोई कितना ही शांत क्यों न हो परंतु उसे किसी न किसी बात पर गुस्सा आ ही जाता है। कुछ लोग ऐसे हैं जिन्हें छोटी-छोटी बात पर भी गुस्सा आ जाता है। अब गुस्सा भले ही किसी भी कारण से आया हो, वह किसी न किसी रूप में तो निकलेगा ही और कई बार ऐसे गुस्से से हमें नुक्सान भी उठाना पड़ता है। इसलिए बहुत जरूरी है कि हम अपने गुस्से को काबू में रखना सीखें।

परिणाम
जब गुस्सा आता है तो दिल करता है आसपास की चीजें तोड़ने को या दूसरों पर जोर से चिल्लने को। ऐसे में हम बिना सोचे-समझे कोई भी कदम उठा लेते हैं। कई बार तो लोग सच में ही आस-पास रखी चीजों को तोड़ने लगते हैं या कहीं का गुस्सा कहीं और निकाल देते हैं। इससे गुस्सा । कम होने की अपेक्षा और बढ़ जाता है। इससे अपना नुक्सान अलग से होता

गुस्से पर काबू के लिए यह एहसास होना बेहद जरूरी है कि हम कुछ गलत कर रहे हैं। यदि गलत करने का पछतावा नहीं होगा तो उसे सुधारने की इच्छा भी नहीं होगी। इसके लिए जरूरी है कि अपने गुस्से के कारणों को जानें । गुस्सा दो कारणों से आता है। या तो किसी खास परिस्थिति के कारण या किसी मानसिक बीमारी के कारण। यदि गुस्सा किसी मानसिक बीमारी के कारण बार-बार आता है तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें और यदि किसी खास परिस्थिति के कारण आता है तो कुछ टिप्स अपनाएं।

गहरी सांस लें या काऊंटिंग करें
जब गुस्सा आए तो आप तुरंत उस जगह से दूर चली जाएं और लंबी एवं गहरी सांसें लें । इससे आपका ध्यान गुस्से से हट कर सांस लेने पर चला जाएगा और गुस्सा कम हो जाएगा। । इसके अलावा आप 1 से 10 तक की काऊंटिग अपने मन में करें, इससे भी आपका मन गुस्से वाली बात से हट जाएगा।

परिणाम सोचें
गुस्से में हम कोई भी कदम तो उठा लेते हैं। परंतु बाद में उसके घातक परिणाम भी भुगतने पड़ जाते हैं इसलिए गुस्से में कोई भी कदम उठाने से पहले बाद में होने वाले परिणामों के बारे में एक बार अवश्य सोच लें।

बात करें
यदि किसी खास दोस्त या व्यक्ति पर गुस्सा आ रहा हो तो उससे बात करें क्योंकि कई बार गुस्से वाली परिस्थितियां गलतफहमी या संवाद की कमी से भी उत्पन्न हो जाती हैं। अत: बात कर के सामने वाले से गिले शिकवे दूर कर लें।

वजह समझें
यदि जॉब छूटने, करियर में असफलता मिलने या फिर किसी निजी परेशानी के कारण तनाव बढ़ने से आप का स्वभाव चिड़चिड़ा हो गया है, तो आपके लिए उस वजह को समझना बेहद आसान है । यदि एक बार वजह समझ में आ गई तो फिर गुस्से पर काबू पाना मुश्किल नहीं रहता।