बिना हेलमेट गाड़ी चलाने वाले दूल्हे को चौराहे पर बैठाकर पढ़ाया यातायात का पाठ

जीवन संगिनी के साथ सात फेरे लेने के बाद गंगा पूजा को जाते दूल्हे को पुलिस ने पकड़ लिया और सुरक्षित यातायात का पाठ पढ़ाया।

20

जीवन संगिनी के साथ सात फेरे लेने के बाद कोहबर में जाते समय सालियों ने जितनी हंसी-ठिठोली नहीं की होगी, उससे कहीं अधिक हंसी-मजाक संग गंभीर तौर पर पुलिस ने बुधवार को संजय को सुरक्षित यातायात का पाठ पढ़ाया। हर कोई अपनी शादी को यादगार बनाना चाहता है। सोनिया क्षेत्र के संजय ने यूं तो मंगलवार को गाजे-बाजे के बीच औरों की तरह अपनी शादी रचाई लेकिन शादी की पूरी रस्म से पहले ही एक ऐसा मोड़ आया कि उन्हें अपनी शादी पूरे जीवन याद रहेगी। दरअसल, दुल्हन को विदाकर ससुराल लाने के बाद शेरवानी पहने संजय बाइक से बड़ा गणेश स्थित अपनी ननिहाल गए थे पूजा करने। पूजा करने के बाद वह गंगा पूजन के लिए अपने घर निकला। मलदहिया पर पुलिस ने यातायात माह के दौरान प्रत्येक बुधवार के क्रम में ‘हेलमेट-सीट बेल्ट डे’ अभियान चला रखा था।

नियम पालन के प्रति प्रतिबद्धता जताई
टीएसआइ अविचल पांडेय की नजर बाइक से फर्राटा भर रहे दूल्हे राजा यानी संजय पर पड़ी और उन्हें रोक लिया। उसके बाद मौके पर मौजूद एसएसपी आरके भारद्वाज ने संजय समेत बिना हेलमेट के पकड़े गए बाइक सवारों को यातायात का पाठ पढ़ाया। संजय को लेकर एसएसपी भी खासे मुस्कुराते दिखे। संजय से कहा कि अब आप पर माता-पिता के साथ ही पत्नी की भी जिम्मेदारी आ गई है। एसएसपी ने वैवाहिक जीवन की शुभकामनाएं देते हुए संजय से भविष्य में यातायात के नियमों का पालन करने की प्रतिबद्धता जताई। साथ ही संजय को तीस मिनट की एक फिल्म भी दिखाई कि कैसे नियमों का उल्लंघन करने पर लोग अपनी जान से हाथ धो देते हैं। शर्म से पानी-पानी हुए संजय ने भी वादा किया कि वे अब यातायात के नियमों का पालन करेंगे।

Source Jagran

Leave A Reply

Your email address will not be published.