4 साल की मासूम बच्ची के साथ पडोसी कर रहा था दुष्कर्म, जब तलाशते हुए माँ आई तो किया ऐसा काम

126

दिल्ली बाईपास कच्ची बस्ती टीला नंबर-6 पर रहने वाला सोनू धानका (23) ने शुक्रवार शाम को अपने पड़ोस में रहने वाली 4 साल की मासूम बच्ची को दुष्कर्म के इरादे से उठाकर अपने घर ले गया। काफी देर तक इंतजार करने के बाद जब बच्ची बाहर से घर के अंदर नहीं आई तो मां को चिंता सताने लगी फिर वो उसे तलाशने के लिए निकली। पड़ोसियों ने ही बताया कि उन्होंने बच्ची को सोनू के साथ देखा था। और वह उसे अपने घर ले गया है। मां सोनू के घर पहुंची तो उसने बच्ची अपने पास होने से साफ मना कर दिया। तभी अचानक अन्दर से बच्ची के रोने की आवाज आई। मां बच्ची को ढूंढने लग गई तो वह एक कमरे में रजाई-गद्दो के बीच दबी हुई बहुत बुरी हालत में मिली। मां ने तुरंत पुलिस को फ़ोन कर बुलाया। थाना प्रभारी जितेन्द्र गंगवानी ने बताया कि आरोपी ने पुलिस के पहुंचने से पहले खुद के घर का दरवाजा बंद कर लिया था। पुलिस दरवाजा तोड़कर घर के अंदर घुसी और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। सोनू गाड़ियों की साफ-सफाई का काम करता है और हमेशा शराब के नशे में रहता है। पुलिस ने बच्ची का जेकेलोन हॉस्पिटल में मेडिकल कराया है।

नाबालिग से दुष्कर्म के अपराधी को उम्रकैद, 1लाख रु. का जुर्माना
महानगर की पोक्सो मामलों की विशेष कोर्ट ने विराट नगर थाना क्षेत्र में  6 साल की मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के अपराधी पुरावाला-मैड निवासी रणजीत सैनी को उम्रकैद व साथ में एक लाख रुपए जुर्माने की सजा दी है। लोक अभियोजक राजेश जैन ने बताया कि मासूम पीड़िता अपने घर से ताऊ के यहां पर जा रही थी। रास्ते में उसे रणजीत मिला और बिस्किट दिलाने के बहाने से बहला फुसला कर पड़ोस के मकान में ले गया। वहां पर उसने मासूम के साथ दुष्कर्म किया और गला दबाकर जान लेने की कोशिश भी की। पड़ोस की एक अन्य बच्ची ने पीड़िता के परिवार वालों को जानकारी दी तो बच्ची के परिजन तुरंत वहां पहुंचे और उन्होंने बच्ची को लहुलुहान व बेहोशी की हालत में पाया।