शीघ्रपतन की समस्या से पाएं छुटकारा, अपनाएं ये अचूक नुस्खे

375

संभोग के समय पुरुषों द्वारा कुछ ही समय में स्खलित हो जाना शीघ्रपतन कहलाता हैं। इसे बिमारी का नाम नहीं दिया जा सकता। यह बस तनाव के चलते और विश्वास की कमी की वजह से उत्पन्न दुविधा हैं। हांलाकि यह एक सामान्य समस्या है, लेकिन इसका असर रिलेशनशिप में बहुत गहरा पड़ता हैं। क्योंकि शीघ्रपतन की समस्या के चलते सेक्स करते समय जल्दी स्खलित हो जाना सेक्स को अच्छे से एन्जॉय नहीं कर पाने का कारण बन जाता हैं। इसलिए इस समस्या का समाधान जल्द ही करने की आवश्यकता होती हैं। इसमें हम आपकी थोड़ी मदद तो कर ही सकते हैं। इसलिए आज हम आपको इस समस्या से छुटकारा पाने के उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं। तो आइये जानते हैं उन उपायों के बारे में।

* प्याज : यौन समस्याओं के घरेलू नुस्खे में प्याज का सेवन करना उत्तम माना जाता है। घर में इस्तेमाल होने वाला सामान्य प्याज और हरा प्याज दोनों ही फायदेमंद है। खाना खाने से पहले 1 गिलास पानी में हरे प्याज के बीज घोल कर पिने से शरीर में ताकत आती है। इसके इलावा कच्चा प्याज भी ज्यादा खाये।

* अश्वगंधा : 5 ग्राम अश्वगंधा पाउडर लेकर उसमें बराबर मात्रा में मिश्री मिलाएं और गुनगुने दूध के साथ सुबह शाम लें। कुछ समय तक लगातार लेने से फायदा होगा।

* अदरक और शहद : रात को सोने से पूर्व 1 चम्मच अदरक का पेस्ट शहद के साथ चाटे। अदरक के सेवन से शरीर में गर्मी आती है और ब्लड का सर्कुलेशन भी अच्छा होता है।

* मूसली पाउडर : 4-4 ग्राम मूसली पाउडर सुबह शाम खाने के बाद दूध से लेने इससे वीर्य गाढ़ा होता है जिससे शीघ्रपतन में आराम मिलता है।

* बिंदी पाउडर : शीघ्रपतन का रामबाण इलाज है भिंडी से बना हुआ पाउडर इस्तेमाल करना। एक गिलास दूध में 10 ग्राम भिंडी पाउडर घोल कर पिए। इस उपाय को हर रात सोने से पहले करे एक महीने में ही आपको फरक दिखने लगेगा।

* जामुन : जामुन की गुठली का पाउडर शीघ्रपतन में बहुत फायदेमंद होता है इसे 3-3 ग्राम मात्रा में कुछ दिन लगातार लेने से फायदा मिलता है।

* लहसुन : पुरुषों में होने वाली यौन समस्या के देसी ट्रीटमेंट में कच्चा लहसुन भी फायदेमंद है। हर रोज 3 से 4 कलियां लहसुन की चबा कर खाये। लहसुन की कलियों को गाय के देसी घी में फ्राई कर के भी खा सकते है।

* अरंडी अक तेल : लिंग के ऊपरी हिस्से की अरंडी के तेल (कैस्टर आयल) से मालिश करने पर भी जल्दी वीर्य निकलने की समस्या दूर होती है।

* शिलाजीत : शिलाजीत का सेवन ज्यादातर सर्दियों में किया जाता है। इसके लिए माचिस की तीली बिना मसाले वाली तरफ से डुबोकर जितना आये उतना शिलाजीत सुबह शाम दूध में मिलाकर लेते हैं गर्मियों में कम मात्रा में सेवन करते हैं।